IND vs AUS – स्टीव स्मिथ ने बुमराह-शमी को दी चुनौती कहा यह कारनामा संभव नहीं हो सकता –

Estimated read time 1 min read

विश्व के नंबर वन टेस्ट बल्लेबाज स्टीव स्मिथ (Steve Smith) को आउट करना बड़ा मुश्किल काम है. लेकिन एक गेंद है जिसका सामना करते हुए वे कई बार विकेट फेंक देते हैं. यह गेंद है शॉर्ट पिच बॉल. बाउंसर भी कह सकते हैं. इंग्लैंड के रफ्तार के सौदागर जोफ्रा आर्चर ने एशेज 2019 के दौरान शॉर्ट पिच गेंदों से स्मिथ को खूब छकाया. इसी तरह की एक गेंद से उन्हें घायल कर मैच से बाहर कर दिया.

न्यूजीलैंड के पेसर नील वैगनर (Neil Wagner) ने भी शॉर्ट पिच गेंदों से स्मिथ को खूब आउट किया. माना जा रहा है कि आगामी टेस्ट सीरीज में भारतीय गेंदबाज (Indian Bowlers) इसी तरह से स्मिथ को निशाना बनाएंगे. लेकिन ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी की अलग सोच है.

उनका कहना है कि वैगनर ने जिस क्षेत्र को टारगेट किया था, भारतीय गेंदबाजों के लिए उस एरिया को टारगेट करना संभव नहीं हो सकता. क्योंकि भारतीय गेंदबाज लंबे समय से अपनी गति में विविधता लाते हैं और उनके पास एक अलग तरह की योग्यता है.

बता दें कि जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah) की अगुवाई वाली भारतीय गेंदबाजी आक्रमण आगामी सीरीज में अगर स्मिथ को शॉर्ट गेंदें डालने की योजना बना रहे हैं तो उन्हें लंबे समय तक स्मिथ के कंधे और पसलियों तक टारगेट करना पड़ेगा. साथ ही उन्हें तेज गेंदें भी डालनी होगी, जैसा कि न्यूजीलैंड के तेज गेंदबाज नील वैगनर ने पिछले साल स्मिथ को डाली थीं. कीवी गेंदबाज वैगनर ने अपनी इन शॉर्ट गेंदों से तीन मैचों की टेस्ट सीरीज में पांच में से चार बार स्मिथ को आउट किया था.

ALSO READ -  आयकर विभाग ने 6 सितंबर तक 70,120 करोड़ रुपये का रिफंड जारी किया-

इस बारे में स्मिथ ने एक सवाल के जवाब में कहा,

वह (वैगनर) वास्तव में टीम के साथ धैर्यवान है. वह पूरे दिन ऐसा करने में सक्षम है. ऐसे तेज गेंदबाज ज्यादा नहीं है, जो पूरे दिन बाउंसरों के साथ गेंदबाजी कर सकें. मुझे लगता है कि जिस तरह से नील करते हैं, वह वास्तव में खास है. वह कंधे और पसलियों के बीच तक गेंदें करते है. वह अविश्वसनीय रूप से सटीक है और वह अपनी गति में बदलाव लाने की क्षमता रखते हैं.

वैगनर के सामने फेल रहे थे स्मिथ

स्मिथ को पिछले साल वैगनर के खिलाफ काफी संघर्ष करना पड़ा था. उन्होंने 42.8 की औसत से दो अर्धशतकों की मदद से केवल 214 रन बनाए थे. उनका मानना है कि वैगनर जिस तरह से शॉर्ट गेंदों का इस्तेमाल करते हैं, उस तरह से कोई और नहीं कर सकता. उन्होंने कहा,

वैगनर इस समय टेस्ट में नंबर दो गेंदबाज हैं. अगर आप वैगनर को देखें तो पाएंगे कि उन्होंने शॉर्ट पिच गेंदों पर अधिक विकेट लिए हैं. जिस तरह से वे फील्ड लगाते हैं, शायद इसलिए वे नंबर दो टेस्ट गेंदबाज हैं. अन्य गेंदबाज वैसे नहीं है, जैसे कि वैगनर है.

स्मिथ का कहना है कि टेस्ट क्रिकेट आपको साझेदारी करने का मौका देती है और इसका मतलब है कि अगर आप शॉर्ट बॉल फेंकते हैं तो आपको इंतजार करना होगा. उन्होंने कहा कि टेस्ट क्रिकेट की यही सुंदरता है. आप जितनी लंबी साझेदारी चाहे कर सकते हैं. यह सोच अच्छा प्रदर्शन करा सकती है.

You May Also Like