अब समुद्र में और घातक होंगी भारतीय पनडुब्बियां,एआईपी का हुआ सफल परीक्षण

Estimated read time 1 min read

ND: आज रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन ने बड़ी उपलब्धि हांसिल की है जिसके चलते भारतीय नौसेना की ताकत में और इजाफा हो गया है। वहीं समुद्र में भारत की पनडुब्बियां और भी ताकतवर हो गई हैं। आज डीआरडीओ ने को भारतीय नौसेना मे बीते दिन रात को मुंबई में एयर इंडिपेंडेंट प्रोपल्शन तकनीक का सफल परीक्षण किया। इस परीक्षण नौसेना की ताकत में इजाफा करने वाला बड़ा कदम माना जा रहा है। इससे भारतीय पनडुब्बियों को समुद्र के भीतर और भी अधिक घातक बना देगा। भारत के दुश्मनों को पता भी नहीं चलेगा और वे तबाह हो जाएंगे। 

पनडुब्बी को पानी के नीचे अधिक समय तक रहने की इजाजत देता है और एक परमाणु पनडुब्बी की तुलना में इसे शांत रखते हुए उप-सतह (सब-सरफेस) के प्लेटफॉर्म को और अधिक घातक बनाता है। भारतीय नौसेना ने अब अपने सभी कलवरी क्लास के गैर-परमाणु हथियारों में एआईपी तकनीक को अपग्रेड करने की योजना बना रही है। 

ALSO READ -  कौन है Crypto King जो बिटक्वाइन के जरिये करता था ड्रग्स का कारोबार?

You May Also Like