किसान आंदोलन का नया केंद्र बनते जा रहा है दिल्ली-यूपी सीमा का गाज़ीपुर बॉर्डर, बढ़ाई गयी सुरक्षा

Estimated read time 0 min read

राजधानी दिल्ली की अलग अलग सीमाओं पर किसानों का आंदोलन 69वें दिन में भी ज़ारी है. अब इस आंदोलन का केन्द्र बनते जा रहा है उत्तर प्रदेश और दिल्ली की सीमा का गाजीपुर बॉर्डर , जहां हज़ारो की संख्या में किसान, कृषि कानून का विरोध करने के लिए जमा होने लगे है , इस लिहाज़ से गाज़ीपुर बॉर्डर के चप्पे चप्पे पर निगरानी बढ़ा दी गयी है. गाड़ियों की सघन जांच हो रही है . दिल्ली पुलिस यहां पहुंचने वाले मार्ग बंद करती जा रही है,स्थिति पर नजर रखने के लिए ड्रोन का उपयोग किया जा रहा है प्रदर्शन स्थल पर कई स्तरों पर बैरिकेड लगाए गए हैं और सुरक्षा बलों की भारी तैनाती की गई है. पूरे बॉर्डर को क़िले में तब्दील कर दिया गया है .


संयुक्त किसान मोर्चा ने एलान किया है कि 6 फरवरी को पूरे देश में चक्का जाम किया जाएगा. जिसके मद्देनज़र गाजीपुर बॉर्डर पर पीएसी और रैपिड एक्शन फ़ोर्स को तैनात कर दिया गया है. बता दें कि उत्तर प्रदेश, हरियाणा और राजस्थान से और अधिक किसान प्रदर्शन में शामिल होने के लिए आ रहे हैं

ALSO READ -  क्षेत्राधिकार की लड़ाई में अवध बार, लखनऊ ने किया पश्चिमी बेंच का समर्थन, किया महसम्मेलन-

You May Also Like