चमोली प्राकृतिक आपदा : अभी भी करीब 206 लापता, दो और शव हुए बरामद, मरने वालो की संख्या हुई 28 

Estimated read time 0 min read

देहरादून : बीते रविवार चमोली जिले में आई प्राकृतिक आपदा के बाद लगातार वहां दबे लोगों की खोज में टीमें काम कर रहीं हैं। इसी कड़ी में आज ऋषि गंगा में आई प्रलय में लगभग 197 लोगों का अभी भी कोई पता नहीं लग सका है। टनल से करीब 35 मजदूरों को निकालने की कवायद जारी है। वहीं, 28 शव निकाले जा चुके हैं, इनमें से आज और 2 शवों की शिनाख्त हुई है। सभी शव टनल से और आसपास के क्षेत्रों में नदियों के किनारे से मिले हैं। वहीं उत्तराखंड के डीजीपी अशोक कुमार ने मंगलवार सुबह बताया कि बचाव दल टनल में थोड़ा और आगे बढ़े हैं, अभी टनल खुली नहीं है। हमें उम्मीद है कि दोपहर तक टनल खुल जाएगी।

आशंका जताई जा रही है कि आज सारा मलबा साफ  कर दिया जायेगा। उत्तराखंड के सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा है कि बचाव दल रस्सी और आवश्यक पैकेज के माध्यम से मलारी घाटी क्षेत्र तक पहुंचने में कामयाब हो गया है, अब हम आसान तरीके से वहां राशन पंहुचा पायेंगें। इससे पहले हेलीकॉप्टर के माध्यम से केवल सीमित स्टॉक की आपूर्ति की जा रही थी, लेकिन अब कोई समस्या नहीं होगी।ऋषिगंगा में आए सैलाब के बाद शवों की ढूंढखोज जारी है। रेस्क्यू टीमों के साथ ही परिजन भी मलबे में अपनों की ढूंढखोज कर रहे हैं।

ALSO READ -  तपोवन में बचाव कार्य जारी, 2 व्यक्तियो के जीवित होने से हौसला बुलन्द-

You May Also Like