पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप के खिलाफ महाभियोग, ट्रायल मंगलवार से शुरू –

Estimated read time 1 min read

वाशिंगटन : ANI के मुताबिक अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप अपने ऐतिहासिक दूसरे महाभियोग ट्रायल की ओर हैं, जो मंगलवार से शुरू हो रहा है। ट्रायल के दौरान सीनेट को यह फैसला करना है कि 6 जनवरी को यूएस कैपिटल की घेराबंदी करने के लिए ट्रंप को उनके समर्थकों की हिंसक भीड़ को उकसाने का दोषी ठहराया जाए या नहीं।

सीनेटर रिचर्ड ब्लूशहाल ने CNN को कहा, ‘यह एक छोटा ट्रायल होगा। इसमें कुछ भी छुपाना जैसा नहीं है, यह खुला है, जिसमें ट्रंप ने अपने ट्वीट में कैपिटल में आने के लिए अपने लोगों को कहा था।’ एक वरिष्ठ जीओपी सीनेटर ने बताया कि उन्हें लगता है कि ट्रायल शुक्रवार या शनिवार को जल्द से जल्द निपट सकता है, क्योंकि यही दोनों पक्ष शायद करना चाहते हैं।

जानकारी के मुताबिक बता दें कि ट्रंप के बरी होने की उम्मीद सभी सीनेटरों पर है। सभी 100 सीनेटर को पहले अपने डेस्क पर बैठना होगा और हाउस डेमोक्रेट द्वारा दंगों की घंटो की ग्राफिक टेस्टीमनी सुनना होगा, जिसमें पांच लोग मारे गए थे। सदन ने यूएस कैपिटल में हुई हिंसा के एक सप्ताह बाद यानि 13 जनवरी को ट्रंप पर महाभियोग लगाया था।

दरअसल, महाभियोग की कार्रवाई देख रहे प्रबंधकों ने पूर्व राष्ट्रपति को गुरुवार को छह जनवरी की घटना में अपनी भूमिका के संबंध में गवाही देने के लिए बुलाया था। वहीं, पूर्व राष्ट्रपति ट्रंप के वकीलों ने कहा है कि सीनेट में महाभियोग की सुनवाई के दौरान वह किसी तरह की गवाही नहीं देंगे। इसके जवाब में ट्रंप के वकीलों ने इसे पब्लिक रिलेशन स्टंट बताते हुए इसमें शामिल होने से इन्कार कर दिया था। हाल ही में ट्रंप एक बार फिर सोशल मीडिया पर एक्टिव हुए।

ALSO READ -  ठेले, खोमचे वालों के लिये शुरू की गयी गयी प्रधानमंत्री स्‍वनिधि योजना 14.35 लाख आवेदनों को अबतक मंजूरी - ऐसे करें अप्लाई

पूर्व राष्ट्रपति ट्रंप ने गैब पर अपने पुराने अकाउंट को एक्‍टिव किया और 4 फरवरी को ट्रंप ने कांग्रेसी जेमी रस्किन को संबोधित करते हुए अपने ऊपर चल रहे महाभियोग पर एक लेटर पोस्‍ट किया है। उस पत्र पर उनके वकीलों ने हस्‍ताक्षर किए हैं। पत्र में कहा गया है कि आप अमेरिका के 45वें राष्‍ट्रपति के खिलाफ अपने आरोपों को साबित नहीं कर सकते, जो एक आम नागरकि है। ट्रंप के इस पोस्‍ट के बाद कार्यकर्ताओं में निश्चित रूप से उत्‍साहित हुए होंगे।

You May Also Like