भारत की रक्षा उद्योग पर ब्राजील से बड़ी साझेदारी, 5 अरब डॉलर के रक्षा निर्यात की घोषणा

‘भारत-ब्राजील रक्षा सहयोग के लिए वर्ष-2021 आशाजनक’

‘दक्षिण अमेरिकी देश के साथ पहली बार वेबिनार का आयोजन’

ND : भारत और ब्राजील के बीच आज एक वेबिनार संपन्न हुई। वेबिनार की विषय वस्तु “सहयोगात्मक साझेदारी के लिए भारतीय रक्षा उद्योग की वैश्विक पहुंच : वेबिनार और एक्सपो” थी। रक्षा उत्पादन विभाग, रक्षा मंत्रालय के संरक्षण में एसआईडीएम के माध्यम से इसका आयोजन किया गया था।

वेबिनारों की एक श्रृंखला के तहत दक्षिण अमेरिकी देश के साथ पहली बार इस बेबिनार का आयोजन किया जा रहा है। रक्षा निर्यात को प्रोत्साहन देने और अगले पांच साल में 5 अरब डॉलर के रक्षा निर्यात के लक्ष्य को हासिल करने के लिए मित्र विदेशी राष्ट्रों के साथ इन वेबिनारों का आयोजन किया जा रहा है।

वेबिनार में दोनों देशों के उच्चायुक्त, एसईपीआरओडी ब्राजील के सचिव और दोनों देशों के वरिष्ठ एमओडी अधिकारियों ने भाग लिया तथा दोनों देशों के बीच बहुआयामी संबंध और सामरिक भागीदारी के बारे में बात की। रक्षा मंत्रालय, भारत सरकार में संयुक्त सचिव डीआईपी/ (पीएंडसी) श्री बाजपेयी ने कहा कि सामरिक भागीदारी को बढ़ाने में व्यापक द्विपक्षीय रक्षा सहयोग अहम है। उन्होंने कहा कि संयुक्त उपक्रम, सह-विकास और उन्नत तकनीकों की साझेदारी में सहयोग के माध्यम से दोनों देशों के उद्योगों के बीच भागीदारी रक्षा में आत्मनिर्भरता के लक्ष्य को हासिल करना दोनों देशों के लिए ही फायदेमंद है। नव वर्ष 2021 भारत- ब्राजील रक्षा सहयोग के लिए बेहद आशाजनक प्रतीत होता है, क्योंकि कई एमओयू और जेवी के परिणाम सामने आने का अनुमान है।

ALSO READ -  सेंसेक्स आज 441 अंक लुढ़का , निफ़्टी-फिफ्टी भी 116 अंक नीचे

टाटा एयरोस्पेस एंड डिफेंस, एसएसएस स्प्रिंग्स, एसएमपीपी, एमकेयू लिमिटेड, एमडीएल, महिंद्रा डिफेंस सिस्टम्स, एलएंडटी, जिंदल स्टील, एचएएल, जीएसएल, बीईएल और अशोक लीलैंड जैसी भारतीय कंपनियों ने कई कंपनी और उत्पाद प्रस्तुतीकरण दिए हैं। ब्राजील के उद्योग जगत से एटीईसीएच, सीबीसी, डीजीएस डिफेंस और पाइनट्री ने कंपनी प्रस्तुतीकरण दिए।

वेबिनार में 150 से ज्यादा प्रतिनिधियों ने भाग लिया और एक्सपो में भारतीय कंपनियों द्वारा 100 से ज्यादा वर्चुअल प्रदर्शनी स्टॉल लगाए गए थे।

You May Also Like