Vikas Dubey Case: गिरफ्तार किये गए 7 गुर्गों के पुलिस ने किये बयान दर्ज

Estimated read time 1 min read

कानपुर: कानपुर के बिकरू काण्ड के आरोपियों पर तलवार अभी भी लटक रही है। जिसके चलते चौबेपुर पुलिस ने बिकरू कांड के आरोपियों के मददगारों को गिरफ्तार किया था जिनके बयान दर्ज किए गए हैं। इन सभी दहशतगर्दों को पनाह देने वालों ने पुलिस की पूछताछ में अपना जुर्म कबूला है। बिकरू में उस रात हुई पूरी वारदात की कहानी सुनाई। असलहों की खरीदारी करने वाले ने साफ-साफ बताया है कि बसपा नेता के रिश्तेदार बंटी व मंगल ने राइफल व बंदूक खरीदी थी। इस बयान से मध्य प्रदेश पुलिस की पोल खुल गई और झूठ का पर्दाफाश हो गया है। 

एसटीएफ ने एक मार्च को खुलासा करते हुए बदमाशों की मदद करने वाले विष्णु कश्यप, अमन शुक्ला, रामजी उर्फ राधे, अभिनव तिवारी, संजय परिहार और शुभम पाल के साथ असलहों की खरीद-फरोख्त करने वाले मनीष यादव उर्फ शेरू को गिरफ्तार कर जेल भेजा था।बिकरू कांड की जांच कर रही एसपी ग्रामीण नेतृत्व की एसआईटी के सह विवेचक ने इन सभी के बयान कोर्ट से अनुमति लेकर लिए।

ALSO READ -  दीदी-मोदी घमासान : मोदी के "दीदी ओ दीदी' पर महुआ मोइत्रा का पलटवार, बोलीं- मोदी गो मोदी

You May Also Like