Ayodhya Dipotsava : अयोध्या में सरयू तट पर जले 5,84,572 मिट्टी के दीये, बना गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड

Estimated read time 1 min read
अयोध्या दीपोत्सव

अयोध्या दीपोत्सव: अयोध्या में दीपोत्सव कार्यक्रम की शुरुआत हो गयी है. इस कार्यक्रम का शुभांरभ उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने श्रीरामलला विराजमान के सामने दीप जलाकर किया. इस अवसर पर प्रदेश की राज्पाल आनंदीबेन भी मौजदू हैं. मुख्यमंत्री ने अयोध्या में आयोजित ‘दिव्य दीपोत्सव’ में श्री राम का प्रतीकात्मक राज्याभिषेक करने के बाद कहा कि आज जिस अयोध्या में दीपोत्सव मनाया जा रहा है, तीन वर्ष पहले तक कुछ लोगों को अयोध्या का नाम लेने से डर लगता था. उन्होंने कहा कि अब सब बदल गया है, लोग अयोध्या आना चाहते हैं, इस बार हमने 5.51 लाख दीप अयोध्या में जलाए हैं, अब अगले साल 7.51 लाख दीपकों से अयोध्या रोशन होगी. मुख्यमंत्री ने कहा कि हम हर पुण्य स्थली को प्रतिष्ठापित करेंगे. श्रद्धालु हो या पर्यटक सभी की सुविधाओं का पूरा ध्यान रखा जाएगा.

दीपोत्सव कार्यक्रम में आज सरयू घाट पर पांच लाख से अधिक दीयों को जलाया जायेगा. इसके अलावा भगवान राम से संबंधित झांकियां भी प्रस्तुत की जायेंगी. इस अवसर पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अयोध्या को अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे (International Airport) समेत दिवाली के कई उपहार दे सकते हैं. संभावना है कि वे एक दर्जन से अधिक विकास परियोजनाओं की घोषणा करें. चूंकि राम मंदिर का शिलान्यास होने के बाद यह अयोध्या में पहली दिवाली है इसलिए यह बहुत ही खास है. 

अयोध्या दीपोत्सव

अयोध्या में दीपोत्सव कार्यक्रम के दौरान सरयू तट पर 5,84,572 मिट्टी के दीये जलाये गये. तेल से इस तरह दीये जलाने का यह गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड है.अयोध्या में दीपोत्सव कार्यक्रम के दौरान सरयू तट पर एक साथ पांच लाख 51 हजार दीये जलाये गये हैं. इन दीपों की रौशनी में पूरी अयोध्या नगरी जगमगा गयी है. अद्‌भुत नजारा है और भक्त भावविभोर हैं. ऐसा मालूम हो रहा है कि दीपावली की ऐसी छटा किसी ने कभी ना देखी हो.सरयू तट पर लेजर लाइट के जरिये भगवान राम से जुड़ी कथाओं को दिखाया जा रहा है.

ALSO READ -  मुस्लिम विरोधी रुख़ पर कायम रहेंगे इजराइल के नए पीएम - नाफ्ताली बेनेट
सरयू तट पर लेजर लाइट

श्री राम जन्मभूमि मन्दिर निर्माण शुरू हो जाने के बाद अब यहां पर्यटन विकास की अपार संभावनाओं को देखते हुए योगी सरकार नीतिगत प्रयास कर रही है. सबकुछ ठीक रहा तो गंगा की तर्ज पर यहां भी सरयू नदी में छोटे जहाज यानी क्रूज चलते नजर आएंगे. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ घोषणा कर चुके हैं कि अयोध्या में सरयू नदी के किनारे भगवान राम की 251 मीटर की लंबी मूर्ति बनेगी. इसके लिए जगह भी चिन्हित कर ली गई है. श्रद्धालुओं के ठहरने के लिए पांच सितारा होटल बनाए जायेंगे. अयोध्या में भगवान राम के नाम पर एयरपोर्ट बनेगा, ताकि विदेशों से जो भी यहां आने चाहें वे सीधे अयोध्या की धरती पर उतरें.

You May Also Like