हरिद्वार महाकुम्भ में शाही स्नान का पहला दिन, कई अखाड़ों के संतों ने किया स्नान 

Estimated read time 1 min read

आज देवभूमि उत्तराखंड हरिद्वार में चल रहे महाकुम्भ का शिवरात्रि पर शाही स्नान किया गया। हरकी पौड़ी पर शाही स्नान के लिए श्रद्धालुओं का सैलाब उमड़ा। कुम्भ आईजी संजय गुंज्याल का कहना है कि रात 12 बजे से अब तक 22 लाख से ज्यादा लोगों ने स्नान किया है।अब तक जूना, आह्वान, अग्नि, किन्नर, निरंजनी और आनंद अखाड़ा के साधु-संत शाही स्नान कर चुके हैं। और भी लाखो श्रद्धालुओं ने स्नान कर भगवन भोले की पूजा की। 

 जूना और किन्नर अखाड़े की छावनी ललतारौ पुल के पास बनी है। जबकि अग्नि और आह्वान अखाड़े की छावनी मायादेवी मंदिर परिसर में है। निरंजनी और आनंद अखाड़े की छावनी सेफ पार्किंग में बनी है। महानिर्वाणी की कनखल और अटल अखाड़े की छावनी बंगाली मोड़ के पास बनी है।

जूना अखाड़े के सहयोगी के रूप में किन्नर अखाड़ा ने आज हरिद्वार महाकुंभ में पहली बार शाही स्नान किया। आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी लक्ष्मी नारायण त्रिपाठी के नेतृत्व में 13 रथों पर सवार किन्नर जुलूस में शामिल हुए। 100 से अधिक किन्नरों ने ब्रह्मकुंड पर शाही सन्ना किया।

ALSO READ -  दिल्ली क्राइम ब्रांच ने लाल किले पर हिंसा में शामिल 25 उपद्रवियों की तस्वीरें की जारी 

You May Also Like