10 मार्च को इंडियन नेवी में शामिल होगी स्कॉर्पीन क्लास सबमरीन ‘आईएनएस करंज’

Estimated read time 0 min read

नई दिल्ली : स्कॉर्पीन क्लास सबमरीन आईएनएस करंज बुधवार को इंडियन नेवी में शामिल की जाएगी. नेवल डॉकयार्ड मुंबई में औपचारिक कमिशनिंग सेरेमनी में करंज को नेवी में शामिल किया जाएगा. पुरानी आईएनएस करंज 2003 में नेवी से डीकमिशंड हुई थी. इंडियन नेवी के पूर्व चीफ एडमिरल वीएस शेखावत (रिटायर्ड) इस सेरेमनी के चीफ गेस्ट होंगे.आईएनएस करंज वेस्टर्न नेवल कमांड के सबमरीन फ्लीट का हिस्सा बनेगी. इससे इंडियन नेवी की क्षमता में और इजाफा होगा.

स्कॉर्पीन सबमरीन दुनिया की सबसे अडवांस्ड पारंपरिक सबमरीन में से एक है. इसमें लेटेस्ट टेक्नॉलजी का इस्तेमाल हो रहा है। यह पुरानी सबमरीन के मुकाबले ज्यादा घातक हैं और दुश्मन को चकमा देने में सक्षम हैं. इसमें ऐसे वेपन और सेंसर हैं जो समंदर में ऊपरी सतह और समंदर के नीचे भी दुश्मन के खतरे को असफल कर सकते हैं.पुरानी आईएनएस करंज 4 सितंबर 1969 में कमिशन हुई थी. उस वक्त के कमांडर वीएस शेखावत के नेतृत्व में 1971 युद्ध में हिस्सा लिया था. सबमरीन के ऑफिसर्स और क्रू की बहादुरी पर उन्हें वीर चक्र सहित कई अवॉर्ड से नवाजा गया.

ALSO READ -  CrPC sec 125 ''एक पिता की अपने बेटे को भरण-पोषण देने की बाध्यता उसके बालिग होने पर भी समाप्त नहीं होगी''-उच्च न्यायलय

You May Also Like