‘केरल के कासरगोड में मॉक पोल के दौरान इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन में कोई गड़बड़ी नहीं, झूठी खबर फैलाई गई’, ECI का सुप्रीम कोर्ट को जबाव

Estimated read time 1 min read

लोकसभा चुनाव 2024 Parliament Election 2024 के पहले चरण First Phase of Election में 21 राज्यों की 102 सीटों पर मतदान कल यानी 19 अप्रैल को कराए जाएंगे। ऐसे में इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों (Electronic Voting Machine) पर राजनीति जारी है। कुछ जगह मॉक पोल के दौरान ईवीएम में गड़बड़ी पाने की खबरों पर निर्वाचन आयोग ने सुप्रीम कोर्ट में उन आरोपों को गलत बताया, जिसमें कहा गया था कि केरल के कासरगोड में हुए मॉक पोल के दौरान ईवीएम में डाले गए वोट और वीवीपैट के पर्चियों की संख्या में भिन्नता पाई गई थी। जांच में एक वोट ज्यादा पाया गया था।

VVPAT से पूर्ण सत्यापन करने के लिए दायर याचिकाओं पर सुनवाई-

जानकारी हो की, शीर्ष अदालत ईवीएम के जरिए डाले गए मतों का वोटर वेरिफिएबल पेपर ऑडिट ट्रेल (VVPAT) से पूर्ण सत्यापन करने के लिए दायर याचिकाओं पर सुनवाई कर रही थी। एक स्वतंत्र वोट सत्यापन प्रणाली वीवीपीएपी, जो एक निर्वाचक को यह देखने में सक्षम बनाती है कि उसका वोट सही तरीके से डाला गया था या नहीं।

विस्तृत रिपोर्ट सौंपेंगे-

वरिष्ठ उप चुनाव आयुक्त नीतेश कुमार व्यास ने न्यायमूर्ति संजीव खन्ना और न्यायमूर्ति दीपांकर दत्ता की पीठ को बताया, ‘ये खबरें झूठी हैं। हमने आरोपों की जांच जिला कलेक्टर से कराई और सामने आया कि यह झूठे आरोप थे। हम अदालत को विस्तृत रिपोर्ट सौंपेंगे।’

EVM की कार्यप्रणाली के बारे में पीठ को अवगत कराने के लिए व्यास अदालत कक्ष में मौजूद थे। इससे पहले दिन में शीर्ष अदालत ने पेश वरिष्ठ अधिवक्ता मनिंदर सिंह को इस मुद्दे पर गौर करने को कहा।याचिकाकर्ता एनजीओ एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स की ओर से वकील प्रशांत भूषण ने अदालत से कहा कि ऐसी खबरें हैं कि मॉक पोल के दौरान ईवीएम ने एक अतिरिक्त वोट दिखाया है।

ALSO READ -  सुप्रीम कोर्ट ने प्रवर्तन निदेशालय को छत्तीसगढ़ शराब अनियमितता मामले में ईसीआईआर पेश करने का निर्देश दिया

LDF चुनाव आयोग में शिकायत दर्ज कराएगा-

माकपा नीत एलडीएफ ने गुरुवार को कहा कि वह कासरगोड लोकसभा क्षेत्र में हुए एक मॉक पोल के दौरान कुछ वोटिंग मशीनों में कथित तौर पर भाजपा उम्मीदवार के पक्ष में गलत तरीके से वोट दर्ज करने को लेकर चुनाव आयोग में शिकायत दर्ज कराएगा।

माकपा के वरिष्ठ नेता के पी सतीश चंद्रन ने आरोप लगाया कि ऐसे उदाहरण हैं जहां दो या तीन वोटिंग मशीनों ने बुधवार को मॉक पोल के दौरान गड़बड़ी की। इस बात की आयोग के समक्ष शिकायत दर्ज कराई जाएगी।

ज्ञात हो की, माकपा नेता एम वी बालाकृष्णन 26 अप्रैल को होने वाले लोकसभा चुनाव में कासरगोड सीट पर कांग्रेस नेता और मौजूदा सांसद राजमोहन उन्नीथन और भाजपा के एमएल अश्विनी के खिलाफ चुनाव लड़ रहे हैं।

You May Also Like